स्वतंत्रता के समय भारत के सामने कई समस्याएँ थीं? इनमें किन्हीं दो समस्याओं का संक्षिप्त वर्णन कीजिए।

QuestionsCategory: Questionsस्वतंत्रता के समय भारत के सामने कई समस्याएँ थीं? इनमें किन्हीं दो समस्याओं का संक्षिप्त वर्णन कीजिए।
Madan Verma Staff asked 3 months ago

स्वतंत्रता के समय भारत के सामने कई समस्याएँ थीं? इनमें किन्हीं दो समस्याओं का संक्षिप्त वर्णन कीजिए। स्वतंत्रता के बाद शरणार्थियों के पुनर्वास की समस्या का समाधान कैसे किया गया स्वतंत्रता के बाद भारत के सामने कौन सी चुनौती थी

1 Answers
Prashan Patr Staff answered 3 months ago

स्वतंत्रता के समय भारत के समक्ष निम्नलिखित दो मुख्य समस्याएँ थीं—
1. शरणार्थियों की समस्या-15 अगस्त, 1947 को स्वतंत्रता दिवस पर आनंद और उम्मीद का वातावरण था। परंतु भारत के बहुत सारे मुसलमानों और पाकिस्तान में रहने वाले हिंदुओं तथा सिखों के लिए यह एक निर्मम क्षण था। करोड़ों शरणार्थी यहाँ से वहाँ जा रहे थे। मुसलमान पूर्वी तथा पश्चिमी पाकिस्तान की ओर तो हिंदू और सिख पश्चिमी बंगाल तथा पूर्वी पंजाब की ओर बढ़े जा रहे थे। उनमें से बहुत-से लोग रास्ते में ही दम तोड़ गए। जो जीवित बचे उन्हें फिर से बसाया जाना था।
2. देशी रियासतों की समस्या- देश के सामने इतनी ही गंभीर एक अन्य समस्या देशी रियासतों को लेकर थी। ब्रिटिश राज के दौरान उपमहाद्वीप का लगभग एक-तिहाई भू-भाग ऐसे नवाबों और रजवाड़ों के अधीन था जो ब्रिटिश ताज की अधीनता स्वीकार कर चुके थे। उनके पास अपने राज्यों को अपनी इच्छा से चलाने की काफ़ी स्वतंत्रता थी। जब अंग्रेजों ने भारत छोड़ा तो इन नवाबों और राजाओं की संवैधानिक स्थिति बहुत विचित्र हो गई। कुछ महाराजा तो टुकड़ों में बँटे भारत में स्वतंत्र सत्ता का सपना देख रहे थे। इस रियासतों को भारत संघ में मिलाए बिना देश की स्वतंत्रता अधूरी थी।

Back to top button
error: Content is protected !!