मेरे संग की औरतें पाठ में लेखिका देश को मिली आज़ादी का पहला जश्न क्यों नहीं देखने जा सकी ?

आपके सवाल हमारे जवाबCategory: Questionsमेरे संग की औरतें पाठ में लेखिका देश को मिली आज़ादी का पहला जश्न क्यों नहीं देखने जा सकी ?
प्रश्न Staff asked 1 month ago

मेरे संग की औरतें पाठ में लेखिका देश को मिली आज़ादी का पहला जश्न क्यों नहीं देखने जा सकी ?

1 Answers
Prashn Patr Staff answered 1 month ago

15 अगस्त, सन् 1947 को देश को आजादी मिली थी। चारों ओर आनंद का वातावरण था। सभी लोग आजादी का जश्न मना रहे थे। परंतु लेखिका बीमार थी। उसे टाइफाइड हो गया था। उसका घर से निकलना बंद था। उसके रोने का किसी पर भी प्रभाव नहीं पड़ा। उसे और उसके पिता जी को छोड़कर सभी लोग आजादी का जश्न देखने चले गए। इस बात का लेखिका को बहुत दुःख था।

error: Don\'t Try To Copy ! Content is protected !!