राष्ट्रीय गान ‘जन-गण-मन’ का भावार्थ लिखें।

आपके सवाल हमारे जवाबCategory: Questionsराष्ट्रीय गान ‘जन-गण-मन’ का भावार्थ लिखें।
प्रश्न Staff asked 4 months ago

राष्ट्रीय गान ‘जन-गण-मन’ का भावार्थ लिखें।जन गण मन का अर्थ क्या होता है? जन गण मन सर्वप्रथम कब और कहाँ आया गया था *? राष्ट्रगान में कितने शब्द है? राष्ट्रगान में जय शब्द कितनी बार आया है *?

1 Answers
Prashn Patr Staff answered 4 months ago

हे परमात्मा! तू अनगिनत लोगों के मन का स्वामी है और भारत के भाग्य को बनाने वाला है। आगे अपने प्रिय देश का चित्र खींचते हुए कहा गया है कि हमारे प्रांतों-पंजाब-सिंध, गुजरात, महाराष्ट्र, उड़ीसा, बंगाल और द्रविड क्षेत्र के लोग हमारे पर्वत-विंध्याचल, हिमालय और पवित्र नदियाँ-गंगा, यमुना और विशाल समुद्र से उठती हुई लहरें तेरे (परमात्मा) नाम को जपती हैं। तेरे शभ आशीर्वाद को प्राप्त करने के लिए हम प्रार्थना करते हैं और तेरे ही अनंत गुणों की महिमा के गीत गा रहे हैं।
हे परमात्मा! त सब लोगों को सुख देता है। तेरी सदा ही जय हो, तू ही भारत के भाग्य का निर्माता है। हम हमेशा तेरे दी गण गाते हैं।

error: Don\'t Try To Copy ! Content is protected !!