किस प्रसंग से पता चलता है कि गुरुदेव की पैनी दृष्टि अणु-अणु में पहुँचने वाली थी ?

आपके सवाल हमारे जवाबCategory: Questionsकिस प्रसंग से पता चलता है कि गुरुदेव की पैनी दृष्टि अणु-अणु में पहुँचने वाली थी ?
प्रश्न Staff asked 2 months ago

किस प्रसंग से पता चलता है कि गुरुदेव की पैनी दृष्टि अणु-अणु में पहुँचने वाली थी ?

1 Answers
Prashn Patr Staff answered 2 months ago

जब लेखक शांति निकेतन में नया आया था, उस समय वह गुरुदेव से ज्यादा खुला हुआ नहीं था। एक दिन गुरुदेव बगीचे में टहल रहे थे, लेखक उनके साथ थे, वे एक-एक फूल-पत्ते को ध्यान से देख रहे थे। अचानक गुरुदेव ने कहा कि आश्रम से कौएं कहाँ गए, उनकी आवाज सुनाई नहीं पड़ती उससे पहले किसी का भी ध्यान इस ओर नहीं आया था परंतु गुरुदेव के निरीक्षण निपुण नयन उनको भी देख सके थे। इस तरह उनकी पैनी दृष्टि अणु-अणु में पहुँचने वाली थी।

error: Don\'t Try To Copy ! Content is protected !!