NDA क्या है? आर्मी ऑफिसर कैसे बने

NDA क्या है? आर्मी ऑफिसर कैसे बने

अगर आप देश की सेवा करना चाहते है तो आपके लिए आर्मी से अच्छी जॉब कोई नही है क्योकि यदि किसी में अपने देश की सेवा करने का जज्बा है और वह और आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो उसके लिए तो आपके लिए NDA (एन डी ए में करियर) से बेहतरीन ऑप्शंस नही है लेकिन आपको बता दू की इस जॉब के लिए हार्ड वर्क करना पड़ता है उसके लिए दिमाक के साथ अच्छा शरीर भी होना चाहिए तभी आप आर्मी में जाने की सोच सकते है और आज हम इस आर्टिकल में आपको बताते है की आप कि आप भारतीय सेना में अधिकारी कैसे बन सकते हैं –सेना में अधिकारी कैसे बने – सेना में ऑफिसर बनने के लिए क्या करें.

nda ki jankari hindi me और आप को हम ये ही बतायेंगे कि सेना में अधिकारी बनने के लिए कौन कौन से परीक्षा हम कब कब दे सकते हैं | इन परीक्षाओं के लिए क्या क्या शर्ते हैं आर्मी में ऑफिसर बनने के लिए आपको NDA, CDS, AFCAT जैसी प्रवेश परीक्षाओं को पास करना होता है | NDA की परीक्षा पास करके आप तीनों सेना भारतीय वायु सेना, थल सेना एवं जल सेना में सेवा का मौका मिल सकता हैं | लेकिन आपको अच्छी लगन से तैयारी करनी पड़ेगी तभी आप इन एग्जाम को क्लियर कर सकते है एनडीए का एग्जाम यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) साल में दो बार लेती है. इस परीक्षा में बैठने के लिए कैंडिडेट का अविवाहित होना जरूरी है. जानें एनडीए एग्जाम से जुड़ी हर छोटी से छोटी जानकारी होनी चाहिए तभी आप इसको क्लियर कर सकते है

लेकिन आपको इस एग्जाम में एंट्री करने के लिए भी आपको पहले (12 वीं पाठ्यक्रम के बाद एनडीए ) 12वीं मैथ के साथ होनी चाहिए और अगर आपको लगता है कि आप के अन्दर अनुशासन , लगन और मेहनत करने और लीड करने की क्षमता है तो आप यकीनन भारतीय सेना में अधिकारी बन सकते हैं तो देखिये हम आपको बताते है की NDA के लिए एग्जाम कोन आयोजित करवाता है और इसके अन्दर क्या होता है.

CA क्या होता है Chartered Accountant बनने के लिए क्या करे

NDA क्या होता हैं

NDA का एग्जाम यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) साल में दो बार आयोजित कराती है. इस परीक्षा में बैठने के लिए कैंडिडेट का अविवाहित होना जरूरी है यदि आपकी शादी हो चूकी है तो आप यह एग्जाम नही दे सकते है NDA के लिए आपको NDA एग्‍जाम क्रैक करना होगा. NDA की आर्मी विंग को छोड़कर नेवल और एयरफोर्स विंग के लिए 12वीं में गणित होनी जरूरी है

और इस एग्जाम को क्लियर करने के लिए आपकी मैथ में अच्छी पकड़ होनी चाहिए NDA के रिटन एग्‍जाम में दो पेपर होते है , एक मैथ्‍स और दूसरा जनरल एबिलिटी टेस्‍ट शामिल है. इन दोनों ही पेपरों में आप्शन टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं. मैथ्‍स का पेपर 300 अंकों का जबकि जनरल एबलिटी टेस्‍ट पेपर 600 अंकों का होता है. यानी कि कुल 900 अंकों का रिटेन टेस्‍ट होता है.

और आप अच्छी तैयारी से इस एग्जाम को क्लियर कर सकते है आपको शुरु से अच्छी तैयारी से करनी चाहिए आपको पिछले क्‍वेशचन पेपर की मदद लें. इससे आपको एग्‍जाम पैटर्न समझने में मदद मिलेगी. जहां तक मैथ्‍स का सवाल है तो आपको अर्थमेटिक, एलजेब्रा, ज्‍योमेट्री, ट्रिग्‍नोमेट्री और स्‍टैटिस्टिक्‍स की जमकर तैयारी करनी होगी.

इसमें पहला जनरल एबिलिटी टेस्‍ट के दो भाग होते हैं: इंग्लिश और जनरल नॉलेज और मैथ लेकिन मैथ में दिक्कत नही आती है क्योकि 12वी क्लास में मैथ होता है लेकिन बहुत से स्टूडेंट भूगोल, इतिहास, अर्थशास्‍त्र और अंग्रेजी क्योकि वह इनकीर ज्यादा ध्यान नही देते है तो आपको सबी सब्जेक्ट की अच्छे से तैयारी करनी चाहिए |

NDA एग्जाम पैटर्न कैसा होता हैं

NDA के रिटन एग्‍जाम में दो पेपर होते है , एक मैथ्‍स और दूसरा जनरल एबिलिटी टेस्‍ट शामिल है. इन दोनों ही पेपरों में आप्शन टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं.पहला 600 नंबर का जिसमे जनरल एबिलिटी टेस्‍ट होता हैं और दूसरा होता हैं जिसमे मैथ्स का जो कि 300 नंबर का होता हैं और जनरल एबिलिटी टेस्‍ट में General Knowledge एवं English के question पूछे जाते हैं साथ ही साथ आपको दुसरे विषय जैसे History, Geography, Economics से जुड़े सवाल भी पूछे जाते हैं

इसलिए आपको इस एग्जाम के लिए अच्छे से तैयारी करनी पड़ती है और इसके लिए आपके इंग्लिश और मैथ अच्छे होने चाहिए और इसके अन्दर एक बार जब आपका चयन हो जाता है तो उसके बाद आपको किसी एक सेना के लिए चुन कर 4 वर्ष की के लिए पढाई के साथ ट्रेनिंग भी दी जाती हैं |

ग्रेजुएशन के बाद सेना में अधिकारी बनने के लिए Exams

अगर आपने B.A या B-Tech जैसी कोई डिग्री ली है तो आपको इसके बाद भी सेना में अधिकारी बनने के लिए Exams होते है और उस से पहले भी होते है क्योकि सेना के अन्दर भी बहुत सी डिपार्टमेंट की जॉब होती है

CDS एग्जाम सेना में अधिकारी बनने के लिए

यदि आप ग्रेजुएशन के बाद सेना में अधिकारी बनने की सोच रहे है तो तो आपके लिए CDS कंबाइंड डिफेंस सर्विसेज एग्जाम बेहद खास है. ये एग्जाम साल में दो बार होता है इस एग्जाम में मैथ्स और इंग्लिश दो महत्वपूर्ण सब्जैक्ट होते हैं.रिटन एग्जाम तीन चरणों में होता है. पहला पेपर अंग्रेजी, दूसरे पेपर में जनरल नॉलेज और तीसरा पेपर एलिमैंट्री मैथमेटिक्स से होगा.

और यह टेस्ट ऑब्जेक्टिव टाइप होता है और इसमें नेगेटिव मार्किंग भी होती है. हर पेपर के लिए दो घंटे का समय दिया जाएगा और प्रत्येक के सौ अंक होंगे. दूसरे शब्दों में कुल 6 घंटे में तीन सौ अंकों के तीन पेपर होंगे. रिटन एग्जाम सफल होने के बाद इंटेलिजेंस और पर्सनैल्टी टेस्ट लिया जाएगा.

एनडीए योग्यता

IMA (इंडियन मिलिट्री एकेडमी) के एग्जाम में देने के लिए मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी विषय में ग्रेजुएट होना जरूरी है. वहीं नेवी के लिए इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री जरूरी है, जबकि एयरफोर्स एकेडमी की परीक्षा के लिए ग्रेजुएट होने के साथ ही बारहवीं में मैथ्स और फिजिक्स जरूरी है. तभी आप इस एग्जाम के अन्दर एंट्री कर सकते है

तो हमने इस पोस्ट में बताया की nda की तैयारी, 12 वीं पाठ्यक्रम के बाद एनडीए, एनडीए योग्यता, nda ki jankari hindi me, एन.डी.ए. परीक्षा, एन डी ए में करियर, एनडीए प्रवेश परीक्षा 2017 भारतीय सेना में अधिकारी कैसे बनें, NDA क्या है?” तो यदि आप यह जॉब करना चाहते है तो आपको अच्छी लगन से तैयारी करनी होगी |

7 Comments
  1. Shubham yadav says

    NDA मे आर्मी का पेपर नेवी से अलग होता है कि नही

  2. Dinesh kushwah says

    Agr math se bdai na ki ho to bo man fom bhr skta ki nhi

  3. Rahul chauhan says

    Agar math se 12th pass na ki ho to iskee tyari nahi kar sakte

  4. Nikhil kesharwani says

    NDA COURSE ME RUPEES FULL FEES KITANA LAGEGA SIR

  5. Nikhil kesharwani says

    NDA COURSE ME FULL FEES KITANA LAGEGA SIR

  6. Ishwar singh says

    Shaadi Ho Jaaye toh Pariksha kyun nahi de sakte

  7. Ajay Singh says

    My DOB is 9 august 2000
    Can i fill up na application form 2018

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!