विज्ञान

विलयन किसे कहते है और इसके प्रकार

विलयन किसे कहते है और इसके प्रकार

Solution In Hindi : Vilayan Kise Kahte hai : दो या दो से अधिक पदार्थों का समांगी मिश्रण बिलियन कहलाता है .निंबू जल, सोडा जल, आदि इसके उदाहरण है. प्राय: विलियन को ऐसे तरल पदार्थ के रूप में माना जाता है. जिसमें ठोस द्रव या गैस मिला हो पर ठोस विलियन मिश्र धातु और गैसिय विलियन वायु भी होती है. एक विलियन के कणों में समांगिता होती है. निंबू जल का स्वाद सदा एक समान रहता है. यह प्रकट करता है कि विलियन में चीनी और नमक समान रूप से बंटे होते हैं. बिलियन में विलायक और विलय होते है. बिलियन में जिस की मात्रा अधिक होती है. उसे विलायक कहते हैं. जिसकी मात्रा कम होती है. उसे विलय कहते हैं. चीनी और जल के घोल में चीनी विलये हैं. और जल विलायक है टिक्चरआयोडीन,कोक,वायु आदि विलयन हैं.

विलयन के गुण

1.यह एक समांगी मिश्रण है
2.इसके कण 1nm(10-10m) से भी छोटे होते हैं.
3.इसके कणों को नंगी आंखों से देखा नहीं जा सकता
4.ये टिंडल प्रभाव नहीं दिखाते
5. इसके कण नीचे नहीं बैठते

वास्तविक विलियन क्या है

वह विलियन जिसमें विलये के कणों का आकार 10-10cm.तक होता है इसमें विलये के कणों विलायक के अंगों के मध्य स्थानों में लुप्त हो जाते हैं. ऐसा विलियन समांगी मिश्रण होता है इसमें परिक्षेपण कण तथा विलायक कणो को परिक्षेपण कहते हैं. उदाहरण जैसे-नमक तथा चीनी के जलीय विलये

विशेषताएं

1.वास्तविक विलियन साफ और पारदर्शी होता है
2.यह समांगी मिश्रण होता है
3.इसके कणों का आकार 10-8cm.तक होता है
4.यह प्रकाश का प्रकीर्णन नहीं करते
5.इन्हें छान कर अलग नहीं किया जा सकता

कोलाइडी विलयन क्या है

कोलाइडी एक विलियन है जिसमें विलये के पदार्थ के कणों का आकार 10-7cm.और 10-5cm.के बीच होता है अर्थार्थ पदार्थ विलियन और निलंबन के बीच होता है यदि एक परखनली में पानी में शाही या दूध की एक दो बूंद डाले तो पानी का रंग बदल जाएगा वह विलियन कोलाइडी विलियन है कोलाइडी विलियन को सॉल कहते हैं. रक्त,टूथपेस्ट,साबुन का घोल,जेम,कोहरा आदि कोलाइडी विलियन के उदाहरण है

विशेषताएं

1.कोलाइडी विलियन समांगी प्रतीत होते हैं. पर वास्तव में वे विषमांगी होते हैं. .
2.कोलाइडी कणों को फिल्टर पेपर से छान कर अलग नहीं किया जा सकता.
3.कोलाइडी कण स्थिर अवस्था में रखे जाने पर भी तेल पर नीचे नहीं बैठते.
4. कोलाइडी कण ब्राउनी गति प्रकट करते हैं. .
5.कोलाइडी विलियन टिंडल प्रभाव दिखाते हैं. .
6.कोलाइडी कणों पर ऋण या धन आवेश होता है जिस कारण विद्युत संचालन प्रकट करते हैं.
7.कोलाइडी कणों का आकार 10-9cm.से 10-7cm.के बीच होता है.

संतृप्त विलयन तथा असंतृप्त विलियन क्या है

संतृप्त विलयन : किसी विशेष ताप पर किसी विलियन में जब और अधिक विलियन न घूल सके तो वह विलेन संतृप्त विलयन कहलाता है.

असंतृप्त विलियन :ऐसा घोल जिसमें किसी निश्चित ताप पर विलये कि मात्रा और अधिकतम मात्रा में कम होती है तो उस ताप पर उसके द्वारा घोली जा सकती है.

जलीय विलियन तथाअजलीय विलियन क्या है

जलीय विलियन: विभिन्न पदार्थों के जल में घोलकर बनाए गए विलियनो को जलीय विलयन कहते हैं. जलीय विलियन में विलायक जल होता है
उदाहरण-नमक का जल में बिलियन, कॉपर सल्फेट का जल में विलियन

अजलीय विलियन : कुछ पदार्थ जल में नहीं घुलते परंतु कार्बनिक द्रव्य में घुलकर बिलियन बनाते हैं. ऐसे बिलियन को जलीय विलयन कहते हैं. इसमें विलायक प्राय:एल्कोहल,एसीटोन,टेट्रोक्लोराइड कार्बन सल्फाइड तथा बेंजीन आदि होते है
उदाहरण-एल्कोहल में आयोडीन का घोल,नेफ्थालिन का बेंजीन मे घोल

इस से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

1.शुद्ध पदार्थ किसे कहते हैं?
उत्तर. वह पदार्थ जिस में विदद्यमान सभी कण समान रसायनिक प्रकृति के हो,उसे शुद्ध पदार्थ कहते हैं.
2.विलियन किसे कहते हैं?
उत्तर.दो या दो से अधिक पदार्थों का समांगी मिश्रण विलियन कहलाता है.
3.विलायक किसे कहते हैं?
उत्तर.विलियन का वह घटक जिसकी मात्रा दूसरे से अधिक होती है और जो दूसरे घटक को विलियन में मिलाता है,उसे विलायक कहते हैं.
4.विलये किसे कहते हैं?
उत्तर.विलयन का वह घटक जो कम मात्रा में होता है और विलायक में घुला होता है,उसे विलये कहते हैं.
5.संतृप्त विलयन किसे कहते हैं?
उत्तर.किसी दिए हुए निश्चित तापमान पर यदि विलियन में विलेय पदार्थ नहीं खुलता है तो उसे संतृप्त विलयन कहते हैं.
6.असंतृप्त विलयन किसे कहते हैं?
उत्तर.यदि एक बिलियन में विलय पदार्थ की मात्रा संतृप्त से कम है तो उसे असंतृप्त विलयन कहते हैं.
7.विलियन की सांद्रता किसे कहते हैं?
उत्तर.विलायक की मात्रा अथवा आयतन में घूले हुए विलय की मात्रा को विलयन की सांद्रता कहते हैं.
8.निलंबन किसे कहते हैं?
उत्तर.निलंबन वह विषमांगी घोल है जिसमें ठोस द्रव में प्रशिक्षित हो जाता है विलय पदार्थ कण घुलते नहीं बल्कि माध्यम में स्मृष्टि में निलंबित रहता है
9.टिंडल प्रभाव किसे कहते हैं?
उत्तर. कोलाइडल कणों के छोटे आकार से प्रकाश की किरण का फैलना टिंडल प्रभाव कहलाता है.
10.क्रोमैटोग्राफी किसे कहते हैं?.
उत्तर. मिश्रण से रंगो के पृथक्करण की विधि को क्रोमैटोग्राफी कहते हैं.

इस पोस्ट में आपको असंतृप्त विलयन विलयन के गुण संतृप्त विलयन क्या है विलयन की परिभाषा आदर्श विलयन क्या है विलयन रसायन समांगी विलयन वास्तविक विलयन से संबंधित जानकारी देने की कोशिश की है अगर अभी भी इसके बारे में आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करें और अगर आपको यह जानकारी पसंद आई तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें.

Join Our Whatsapp Group For Latest Update :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *