Join Our Whatsapp Group For Latest Update :

पैसे कमायें

गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस कैसे शुरू करें

गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस कैसे शुरू करें

हमारे देश में हिंदू धर्म को मानने वाले ज्यादा लोग रहते हैं और इसी वजह से हिंदू और रीति रिवाज में कैसी कई ऐसी चीजों का इस्तेमाल किया जाता है जिसको शुभ माना जाता है इसी तरह से हमारे देश में सोना पहनना भी शुभ माना जाता है और आप सभी को पता होगा कि हमारे देश की महिलाएं अपने गले नाक और पांव जैसी जगह पर अलग-अलग प्रकार के सोने से बने हुए आभूषण पहनती है

हमारे देश में सोना कम है इसीलिए हमारे देश में बाहर से सोना आता है और इसी बिजनेस के साथ जुड़कर काफी सारे लोग अच्छा पैसा कमा रहे हैं तो आज के इस ब्लॉग में हम आपको गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस के बारे में बताने वाले हैं यदि आप एक बढ़िया और अच्छा व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो आप गोल्ड एक्सपोर्ट का बिजनेस शुरू कर सकते हैं

गोल्ड एक्सपोर्ट क्या होता है ?

What is gold export? in Hindi – प्राचीन समय से ही हमारे देश में महिलाएं सोने से बने हुए आभूषण पहनती आ रही है और आज के समय में भी सोने से बने हुए आभूषण पहनना एक रिवाज बनी हुई है सोना पहनने से महिलाएं सुंदर तो दिखती ही है इसके साथ ही सोना पहनना शुभ माना जाता है और कई ऐसे खुशी के मौके आते हैं

जिस पर सोने से बनी हुई वस्तुओं का ही इस्तेमाल किया जाता है लेकिन सोना एक बहुत कीमती धातु है और यह बहुत महंगा होता है इसीलिए हर इंसान सोना पहनना पसंद तो करता है लेकिन उनके पास इतने पैसे नहीं होते हैं कि वे सोने से बने हुए आभूषण पहन सके और हमारे देश में सोना बाहर से एक्सपोर्ट होता है

इसी वजह से सोने का भाव दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है लेकिन जो लोग सोने का एक्सपोर्ट बिजनेस करते हैं वे लोग आज के समय में सोने के बिजनेस से काफी अच्छा पैसा कमा रहे हैं यदि आप भी सोने के एक्सपोर्ट का बिजनेस शुरू कर लेते हैं तो यह आपके लिए काफी अच्छा बिजनेस होने वाला है

गोल्ड एक्सपोर्ट का बिजनेस कैसे करें

How to do gold export business in Hindi – जैसा कि हमने आपके ऊपर बताया सोना एक बहुत ही कीमती धातु है और बहुत सारे लोग विदेश से गैर कानूनी तरीके से सोने का एक्सपोर्ट करते हैं लेकिन यह खतरनाक काम है अगर कोई इंसान ऐसा करता है तो यह उसके लिए काफी बड़ी समस्या बन जाता है

इसलिए जो लोग सोने का बिजनेस करना चाहते हैं वे लोग गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस के लिए सरकार से परमिशन लेते हैं और इस बिजनेस को शुरू करने के लिए उनका काफी सारी अलग-अलग चीजों की आवश्यकता पड़ती है जैसे

गोल्ड एक्सपोर्ट का बिजनेस में लागत

Cost of gold export business in Hindi – अगर आप गोल्ड एक्सपोर्ट का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको काफी अच्छी इन्वेस्टमेंट करनी होती है क्योंकि यह एक बहुत ही कीमती धातु से जुड़ा हुआ बिजनेस है इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले एक बढ़िया ऑफिस बनाना होता है

जो कि आप किराए पर भी ले सकते हैं इसके बाद में आपको गोल्ड एक्सपोर्ट का लाइसेंस लेना होता है जितना भी बड़ा आप इस बिजनेस को बनाना चाहते हैं उसी के हिसाब से आपको इस बिजनेस में इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है

गोल्ड एक्सपोर्ट के नियम

Gold export rules in Hindi – गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस करना इतना आसान नहीं होता इस बिजनेस को करने के लिए आपको काफी सारे नियमों का पालन करना पड़ता है क्योंकि सरकार के द्वारा गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस के लिए कई ऐसे नियम बनाए हैं जिनके अनुसार ही आपको इस बिजनेस को चलाना होता है

अगर आप किसी भी प्रकार की गलती करते हैं तो यह आपके और आपके बिज़नस दोनों के लिए घातक साबित हो सकता है गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस कई तरह का होता है जिसमें प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप, लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप, प्राइवेट कंपनी, लिमिटेड कंपनी, ट्रस्ट, रजिस्टर्ड सोसाइटी और एचयूएफ रजिस्टर करना होता है

इसके अलावा आपको बिजनेस को चलाने का तरीका भी चुनना होता है गोल्ड एक्सपोर्ट को चलाने के लिए व्यापारी निर्यातक, निर्माता निर्यातक या व्यापारी सह निर्माता निर्यातक जैसे तरीके होते हैं और आपको इस बिजनेस के लिए सेवा कर विभाग में भी रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है इसके अलावा भी काफी सारे ऐसे और रजिस्ट्रेशन होते हैं

लाइसेंस

गोल्ड एक्सपोर्ट बिजनेस शुरू करने के लिए आपको पहले भारत सरकार से लाइसेंस लेना होता है इसके अलावा आपको एकइस बिजनेस से जुड़ा हुआ खाता भी खोलना पड़ता है जिसमें आपको माल आयात निर्यात लाइसेंस और अकाउंट से संबंधित ब्यौरा रखना होता है और इसी के लिए आपको खाता खोलना पड़ता है यह आपके पैन कार्ड के साथ कनेक्ट होता है

गोल्ड एक्सपोर्ट का बिजनेस के लिए जरूरी दस्तावेज

Documents required for gold export business in Hindi – अगर आप इस बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं तो इस बिजनेस के लिए आपके पास काफी सारे जरूरी दस्तावेजों का होना भी जरूरी है क्योंकि यह एक एक्सपोर्ट से संबंधित बिजनेस है और इस बिजनेस में आपको बाहर से माल मंगवाना होता है जिसके लिए आपको काफी सारे दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है

  • आईडी प्रूफ के तौर पर आपको पैन कार्ड आधार कार्ड वोटर आईडी कार्ड की आवश्यकता पड़ती है
  • एड्रेस प्रूफ के तौर पर आपको बिजली पानी का बिल ड्राइविंग लाइसेंस और राशन कार्ड की आवश्यकता होती है
  • आपके पास एक बैंक अकाउंट और पासबुक होना बहुत जरूरी है
  • आपको एक जीएसटी नंबर भी खरीदना पड़ता है
  • आपको बिजनेस रजिस्ट्रेशन करवाने की भी आवश्यकता होती है
  • आपको बिजनेस पैन कार्ड भी बनवाना पड़ता है
  • आपके पास एक ईमेल आईडी फोन नंबर और पासपोर्ट साइज फोटो होना चाहिए
  • आपको ट्रेडलाइसेंस भी लेना पड़ता है

इसके अलावा भी आपको काफी सारे कोड जरूरी दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती है

शिपमेंट और कस्टम नियम

Shipment and Custom Terms in Hindi – जब आप किसी देश से सोना खरीदते हैं तब आपको काफी सारे नियमों व नियमों का पालन करना होता है जब भी आप कहीं से माल खरीदते हैं तो वहां पर आपको बिल लेना होता है और आपको माल शिपमेंट बिलों के हिसाब से आपके देश में आता है

उसके बाद में जब आपका माल आपके बंदरगाह या हवाई अड्डे पर आता है तो उसके बाद में काफी सारे कस्टम नियमों का भी पालन करना पड़ता है जहां पर कस्टम ऑफिसर आपकी पूरी शिपिंग बिल प्रोडक्ट बिल और इसके अलावा भी काफी सारी चीजों को देखते हैं और फिर उसी के हिसाब से ही आपका माल देश में आने देते हैं

यह प्रोसेस बहुत ही कठिन होता है इसलिए आप सभी ओरिजिनल बिल डॉक्यूमेंट बनाना जरूरी होती है हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा बताई गई गोल्ड एक्सपोर्ट के बिजनेस के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी तो यदि आपको यह जानकारी पसंद आई है और आप ऐसी ही और जानकारियां पाना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट को जरुर विजिट करें]]

Join Our Whatsapp Group For Latest Update :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!